Essay in Hindi

बाल दिवस पर हिन्दी निबंध – Children’s Day Essay in Hindi

हमारे देश भारत में बहुत ही हर्षोल्लास के साथ 14 नवंबर को बाल दिवस के तौर पर मनाया जाता है यह बालकों के लिए एक उत्साह के समान होता है हमारे देश के सर्वप्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन भी 14 नवंबर 1989 को आता है इसी कारण से यह दिन और भी अधिक यादगार और खास हो जाता है और अगर एक तरह से कहा जाए तो चाचा नेहरू का बच्चों के प्रति प्रेम एवं लगाव को देखते हुए यह दिवस उनके ही याद में मनाया जाता है।

पंडित जवाहरलाल नेहरू बच्चों को बहुत मानते थे एवं बच्चों से अत्यधिक लगाव रखते थे नेहरू जी का यह लगाव देश तक ही सीमित ना रहा बल्कि कहा जाता है कि एक बार जापान के बच्चों ने नेहरू जी से हाथी भेंट स्वरूप लेने की जिद की थी तो नेहरु जी ने तुरंत एक हाथी जापान भिजवा दिया जिसका नाम उनकी बेटी के नाम पर रखा गया था और वह हाथी आज भी जापान के टोक्यो की यू ना चिड़ियाघर में है ऐसे थे हमारे चाचा नेहरू.

नेहरू जी को बच्चे चाचा नेहरू कहकर पुकारा करते थे इसका कारण यह था पंडित जवाहरलाल नेहरू गांधी जी के अत्यधिक करीब थे और उनके छोटे भाई की तरह रहते थे तो गांधी जी को सभी बापू कहकर संबोधित करते थे और पंडित जवाहरलाल नेहरू के छोटे भाई की तरह रहते थे इसलिए उन्हें चाचा नेहरू कहते थे यह तो थी  पीछे की एक छोटी सी बात.

अगर बात करें बाल दिवस के इतिहास की तो विश्व में पहली बार 20 नवंबर 1954 को विश्व बाल दिवस के रुप में मनाया गया था.

एवं हमारे भारत में पहली बार बाल दिवस 1959 में मनाया गया था लेकिन उस समय भारत में बाल दिवस को 20 नवंबर को मनाया जाता था लेकिन 27 मई 1964 को हमारे देश के प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के स्वर्गवास के बाद उनकी स्मृति में उनके जन्मदिवस पर ही यानी 14 नवंबर को बाल दिवस मनाने का फैसला हुआ तभी से लेकर आज तक हम बाल दिवस को 14 नवंबर को ही मनाते हैं.

बच्चे देश का भविष्य होते हैं एवं बच्चों के मूल अधिकारों जरूरतों एवं इनके विभिन्न अधिकारों की रक्षा एवं इन्हें बाल शोषण से बचाने के लिए एवं समाज में सामाजिक जागरूकता तथा दायित्व लाने के लिए यह दिवस मनाया जाता है.

एवं जिस तरह से बाल शोषण एवं बाल श्रम बढ़ता जा रहा है उसके देश का भविष्य अंधकार में लग रहा है इन्हीं सभी कारणों बस यह दिवस मनाया जाता है जिससे सभी बालक अपने बचपन को स्वतंत्रता पूर्वक जी सकें और उनका भविष्य उज्जवल एवं बेहतर हो सके धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.