डिजिटल लॉकर (Digital Locker) क्या है इसके उद्देश्य, रखने के फायदे और अकाउंट कैसे बनाएं

डिजिटल लॉकर या डिजिलॉकर, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी डिजिटल इंडिया कार्यक्रम का अहम हिस्सा है। अंग्रेजी भाषा के शब्दों डिजिटल लॉकर का हिंदी में शाब्दिक अर्थ है अंकीय तिजोरी या इलेक्ट्रॉनिक तिजोरी जो दस्तावेजों की छायाप्रति सुरक्षित रखने के काम आती है। भारत सरकार के संचार और आईटी मंत्रालय के द्वारा प्रबंधित इस वेबसाईट आधारित सेवा के जरिये उपयोगकर्ता जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन सुरक्षित रख सकते हैं। इस पोर्टल की मदद से ई-दस्तावेजों का आदान-प्रदान पंजीकृत कोष के माध्यम से किया जाएगा, जिससे ऑनलाइन दस्तावेजों की प्रामाणिकता सुनिश्चित होगी। आवेदक अपने इलेक्ट्रॉनिक दस्तावेजों को अपलोड कर सकते है और डिजिटल ई-साइन सुविधा का उपयोग कर उन पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। इन डिजिटली हस्ताक्षरित दस्तावेजों को सरकारी संगठनों या अन्य संस्थाओं के साथ साझा किया जा सकता है।

डिजिटल लॉकर के उद्देश्य
1. क्लाउड पर डिजिटल लॉकर प्रदान करने के द्वारा आवेदक का डिजिटल सशक्तिकरण
2. ई दस्तावेजों की प्रामाणिकता सुनिश्चित करके फर्जी दस्तावेजों के उपयोग को खत्म करना
3. सरकारी विभागों और एजेंसियों के प्रशासकीय उपरिव्यय को कम करना एवं नागरिकों के लिये सेवा प्राप्त करना आसान बनाना
4. ओपन और इंटरऑपरेबल मानकों पर आधारित संरचना प्रदान करना जिससे अच्छी तरह से संरचित मानक दस्तावेज़ के माध्यम से विभागों और एजेंसियों के बीच दस्तावेजों को आसानी से साझा किया जा सके

डिजिटल लॉकर दस्‍तावेजों को रखने के फायदे
1. आपको अपने सभी दस्‍तावेजों को हर बार, हर जगह उठाकर ले जाने की आवश्‍यकता नहीं पड़ेगी। आवश्‍यकता पड़ने पर आप डिजीटल लॉकर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।
2. कहीं भी कभी भी, दस्‍तावेजों का इस्‍तेमाल किया जा सकता है।
3. डिजीलॉकर में 10MB का स्‍टोरेज मिलता है, जो आवश्‍यक दस्‍तावेजों को रखने के लिए पर्याप्‍त होता है।
4. आवश्‍यकता पड़ने पर इन्‍हे किसी के साथ शेयर किया जा सकता है या उसे भेजा जा सकता है

डिजिटल लॉकर में अकाउंट कैसे बनाएं
1. सबसे पहले https://digitallocker.gov.in/ बेवसाइट पर क्लिक करें।
2. दिए गए स्‍थान पर अपने 12 अंकों वाले आधार नम्‍बर को दर्ज करें।
3. OTP का इस्‍तेमाल करें या फिंगरप्रिंट का इस्‍तेमाल करें।
4. यूजरनेम और पासवर्ड डालें।
5. एप्‍लीकेशन में ”मॉय सर्टिफिकेट” पेज खुलेगा।

इन्हें भी देखें:
Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana
Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana
Mid Day Meal Scheme