Government Schemes

Hindi – E- Shram Card Yojana

ई-श्रम कार्ड योजना क्या है

‘ई – श्रम योजना’ केंद्र सरकार द्वारा उन सभी किसानों के लिए लाई गई है जो असंगठित क्षेत्रों में काम करते हैं। इसके लिए सरकार ने 25 अगस्त 2021 को ‘ई श्रम पोर्टल’ की शुरूआत की, जिसमें सभी योग्य उम्मीदवार अपना रजिस्ट्रेशन करवाकर इस योजना का लाभ ले सकते हैं। सरकार ने इस योजना की शुरुआत असंगठित क्षेत्रों में काम कर रहे मजदूरों को उपयुक्त सरकारी योजनाओं का लाभ आसानी से पहुंचाने के लिए की थी, क्योंकि इससे पहले सरकार के पास उन किसानों का कोई भी केंद्रीकृत डाटा उपलब्ध नहीं था। इसलिए किसी भी सरकारी लाभ को उन तक पहुंचाने में परेशानी होती थी इस योजना के आने के बाद से सरकार के पास उन सभी किसानों का उचित डाटा मौजूद होता है जिससे सरकार उनको कई सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान कर सकती है, साथ ही सरकार इस डाटा को कई प्राइवेट संस्थाओं के साथ सरकार शाझा करेगी जो कि किसानों के लिए काम करती हैं।

ई – श्रम योजना के उद्देश्य

• इसका उद्देश्य सभी असंगठित क्षेत्रों मेन कम कर रहे मजदूरों या किसानों का एक केंद्रीकृत डेटाबेस तैयार करना है, जिसमें र, घरेलू कामगार, प्रवासी कामगार, गिग और प्लेटफॉर्म कामगार, फेरी वाले, , कृषि कामगार आदि को शामिल किया जा रहा है, जिन्हें आधार नंबर से संलग्न किया जाना है।
• इससे सभी असंगठित श्रमिकों को एक ही स्थान पर उन सभी योजनाओं का उचित लाभ दिलाना है, जो श्रम एवं रोजगार मंत्रालय और अन्य मंत्रालयों द्वारा प्रशासित की जा रहीं हैं।
• पंजीकृत असंगठित कामगारों के संबंध में विभिन्न हितधारकों जैसे मंत्रालयों/विभागों/बोर्डों/एजेंसियों/केंद्र और राज्य सरकारों के संगठनों के साथ एपीआई माध्यम के द्वारा प्रशासित की जा रही विभिन्न सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी योजनाओं के वितरण के लिए जानकारी साझा करना।
• प्रवासी कामगारों की स्थिति और वर्तमान स्थान, औपचारिक क्षेत्र से अनौपचारिक क्षेत्र और इसके विपरीत उनकी आवाजाही का पता लगाना भी इसका उद्देश्य है।
• प्रवासी और सन्निर्माण कामगारों को सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी योजनाओं का लाभों दिलाने सहायता करना।
• भविष्य में कोविड-19 जैसे किसी भी अन्य राष्ट्रीय संकट से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को एक व्यापक डेटाबेस उपलब्ध कराना।

ई – श्रम योजना के लाभ

1. इस योजना के तहत कार्ड धारी श्रमिकों तक सभी उपयुक्त योजनयों लाभ सीधे उनके बैंक खातों में पहुंचाया जाएगा।
2. इसमें सभी श्रमिकों के कम के बारे में सारी जानकारी होती की वे क्या काम करते हैं तथा किस कम में परिपक्व हें जिससे उन्हे उचित रोजगार दे में सरकार को सहता होगी।
3. इसके तहत सभी हितग्राहियों को न्यूनतम प्रीमियम पर 2 लाख रुपये तक का इश्योरेंस भी दिया जाता है, जिसके 1 वर्ष के प्रीमियम का भुगतान सरकार द्वारा किया जाता है।

ई – श्रम योजना की रजिश्ट्रेसन प्रक्रिया

  • इस पोर्टल पर पंजीकरण करना काफी सरल और सुगम है। जो सिक्षित कामगार हैं और स्मार्ट फोन का उपयोग करते हैं वे स्वयं ही इस पोर्टल पर जाकर अपनी उपयुक्त जानकारी भर के पंजीकरण कर सकते हैं अथवा लोकसेवा आयोग या ऑनलाइन शॉप पर जाकर भी पंजीकरण कार्वा सकते हैं। देश में प्रतिदिन लगभग 1 लाख पंजीकरण किए जा रहे हैं।