Government Schemes

Hindi – Krishak Sahakari Rin Mitra Yojana Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश राज्य का नाम वर्तमान में देश के उन राज्यों की लिस्ट में शामिल है जहां सबसे अधिक कृषि की जाती है और पिछले कुछ सालों में मध्यप्रदेश में कृषि के क्षेत्र में काफी विस्तार भी हुआ है इसका एक मुख्य कारण कृषि में बढ़ता हुआ मुनाफा और बेहतरीन नेतृत्व हैं। मध्य प्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा वर्तमान में काफी सारी ऐसी योजनाएं चलाई जा रही है जो प्रत्यक्ष तौर पर किसानों को लाभ दे रही है और कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना उन्ही में से एक हैं। कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना (Krishak Sahkari Rin Mitra Yojana) किसानों के लिए सटीक प्रबंधन बनाने हेतु राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही एक बेहतरीन योजना है जिसके बारे में हम इस लेख में बात करेंगे।

कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना मध्य प्रदेश 2021 क्या हैं?

यह बात हम सभी को भली-भांति पता है कि हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है और हमारे देश में कई तरह के किसान रहते हैं जो अलग अलग फसलों का उत्पादन करते हैं। अगर बात की जाए मध्य प्रदेश की तो मध्यप्रदेश में कई तरह की फसलों का उत्पादन प्रचुर मात्रा में होता है जिनमें से एक  गेहूं भी है। अगर आप वर्तमान में देश के किसानों की हालत का आकलन करो तो लाखों की तादात में ऐसे किसान मौजूद है जो आर्थिक समस्याओं का सामना कर रहे हैं जिसका मुख्य कारण ना केवल प्राकृतिक आपदाएं हैं बल्कि सटीक प्रबंधन का ना होना भी हैं।

बहुत सारे किसान आर्थिक रूप से इतने कमजोर होते हैं की कई बार उनके पास खेती के लिए लागत भी नहीं बच पाती जिसके चलते उन्हें लोन लेना पड़ता है। ऐसे में किसान साहूकारों से लोन ले लेते हैं जिसमे उन्हें काफी अधिक ब्याज देना पड़ता है जिसके चलते कई बार मुनाफा भी कवर नही हो पाता। ऐसे में इस क्षेत्र में सटीक प्रबंधन की आवश्यकता थी और मध्य प्रदेश सरकार ने यही बात ध्यान में रखते हुए कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना की शुरुआत की हैं। यह योजना वर्तमान में मध्य प्रदेश की सरकार के द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही सबसे बेहतर योजनाओं में से एक हैं।

कृषि सहकारी ऋण मित्र योजना मध्य प्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा बैंकों के साथ मिलकर लॉन्च की गई एक योजना हैं जिसमे अपैक्स बैंक भी महत्वपूर्ण योगदान निभा रहा हैं। इस योजना के द्वारा राज्य सरकार बैंकों से कम ब्याज दर के साथ किसानों को लोन प्रदान करवा रही है जिससे कि वह खेती कर सके और अच्छा मुनाफा कमा सके । साहूकारों से लोन लेने की जगह खेती के लिए बैंकों से प्रत्यक्ष तौर पर लोन लेकर किसान अपना काफी पैसा बचा सकेंगे और क्योंकि यह एक सटीक प्रबंधन होगा तो किसानों के साथ किसी प्रकार की कोई ठगी भी नहीं होगी।

मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना का उद्देश्य क्या हैं?

मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना मध्य प्रदेश की राज्य सरकार के द्वारा वर्तमान में किसानों के हित में चलाई जा रही एक बेहतरीन योजना है जो किसानों को लोन प्रदान करने के लिए एक सटीक प्रबंधन लेकर आई हैं। मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना के द्वारा किसान कम ब्याज दर पर खेती के लिए लोन प्राप्त कर सकते हैं जिससे कि वह अपने आप को न केवल साहूकारों द्वारा की जाने वाली ठगी से बचा सकेंगे बल्कि साथ ही बेहतरीन मुनाफा भी कमा पाएंगे। बैंकों द्वारा किसानों को लोन को वापस करने के लिए अच्छी खासी मोहलत भी प्रदान की जाएगी जिससे कि किसान फायदे में रहेंगे। इस योजना का उद्देश्य किसानों को कम ब्याज दर में लोन दिलवाना हैं।

मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना के लाभ

जब भी सरकार के द्वारा कोई योजना शुरू की जाती है तो उसके लाभ लोगों को मिलते हैं और मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना से भी राज्य में रहने वाले किसानों को कई लाभ मिल रहे हैं, जो कुछ इस प्रकार है:

  • योजना के द्वारा राज्य के किसानों को कम ब्याज दर पर लोन दिलवाया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत लिए गए लोन को चुकाने के लिए किसानों को अच्छी खासी अवधि दी जाएगी।
  • योजना के अंतर्गत जो किसान लोन लेकर उसे समय पर चुकाते हैं उन्हें जिला स्तर व राज्य स्तर पर सम्मानित किया जाएगा।
  • योजना के द्वारा किसानों को काफी कम ब्याज दर में लोन मिल जाएगा जिससे कि उन्हें साहूकारों के पास लोन के लिए नहीं जाना पड़ेगा।
  • साहूकारों के द्वारा अक्सर किसानों के साथ ठगी की जाती है और इस योजना के द्वारा कम ब्याज दर में लोन लेकर किसान उससे बच सकेंगे।
  • क्योंकि योजना के द्वारा किसान काफी कम ब्याज दर में बैंकों से लोन प्राप्त कर सकेंगे तो उन्हें कृषि से अच्छा मुनाफा कमाने में भी मदद मिलेगी।
  • योजना के द्वारा न केवल किसानों को फायदा होगा बल्कि जो वित्तीय संस्थाएं योजना से जुड़ी है उन्हें भी सरकार के द्वारा समर्थन दिया जाएगा।

मध्यप्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना का लाभ उठाने के लिए पात्रता

किसी भी योजना का लाभ उठाने के लिए सरकार के द्वारा कुछ पात्रताए तय की जाती है और उन पात्रताओं के अनुसार ही योजना का लाभ आवेदकों को दिया जाता हैं। मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना का लाभ उठाने के लिए निर्धारित पात्रता कुछ इस प्रकार है:

  • योजना का लाभ राज्य में रहने वाला कोई भी किसान उठा सकता हैं।
  • योजना का लाभ केवल उन्हीं आवेदकों को दिया जाएगा जो मध्य प्रदेश के स्थाई नागरिक हैं।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक किसान के पास सभी आवश्यक दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड, जमीन सम्बन्धित कागजात और बैंक अकाउंट होने चाहिए।

मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

मध्य प्रदेश कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना का लाभ उठाने के लिए किसान सीधा इस योजना के अंतर्गत फॉर्म भरकर बैंक से कृषि लोन के लिए आवेदन कर सकता है। अर्थात अगर कोई किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहता है तो वह बैंक में जाकर कृषक सहकारी ऋण मित्र योजना के फार्म को भरकर उसे बैंक में जमा करवा सकता है। किसान आवेदक की पात्रता के अनुसार बैंक आवेदक का लोन अप्रूव करेगा और कम ब्याज दर में आवेदक को लोन प्रदान करेगा। इस बात का ध्यान रखें कि केवल कुछ ही बैंक इस योजना में सरकार से जुड़े हुए हैं तो आपको पहले उन बैंकों के बारे में पता कर लेना चाहिए जिनके द्वारा आप इस योजना का लाभ उठा सकते हो।

तो मित्रों आशा करते हैं कि आर्टिकल आपको पसंद आया हो अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा तो आप इसे अपने अन्य मित्रों के साथ भी शेयर कर सकते हैं धन्यवाद.