Government Schemes

Hindi – Mukhyamantri Bhavantar Bhugtan Yojana 2021 Madhya Pradesh

यह बात हम सभी जानते हैं कि हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है लेकिन इसके बावजूद भी हमारे देश में कृषि के क्षेत्र से जुड़े हुए लोगों की आर्थिक हालत ज्यादा बेहतर नहीं है। ऐसा नहीं है कि कृषि से कोई अधिक मुनाफा नहीं कमा रहा है, क्योंकि आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए काफी सारे किसान कम मेहनत और कम लागत में कृषि से अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं लेकिन अगर बात की जाए छोटे व सीमांत किसानों की तो वह कई बार अपनी लागत जितना भी प्राप्त नहीं कर पाते। यही कारण है कि सरकार के द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रदान किया जाता है। इससे संबंधित कई योजनाएं पूरे देश में केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही है और उन्हीं में से एक योजना ‘मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 मध्य प्रदेश’ भी हैं जिसके बारे में आज हम इस लेख में बात करेंगे।

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 मध्य प्रदेश क्या है?

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 मध्य प्रदेश के राज्य सरकार के द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही एक बेहतरीन योजना है, जिसके अंतर्गत अगर किसानों को बाजार में राज्य सरकार के द्वारा फसलों के लिए निर्धारित किए गए न्यूनतम समर्थन मूल्य जितनी या उससे बेहतर कीमत नहीं मिल पाती तो किसान सीधे राज्य सरकार को अपनी फसल बेचकर न्यूनतम समर्थन मूल्य के अनुसार पैसे प्राप्त कर सकता हैं। सरल भाषा में अगर मुख्यमंत्री भावांतर योजना 2021 को समझा जाए तो इसके अंतर्गत मध्य प्रदेश के राज्य सरकार किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल खरीद रही हैं।

देश में रहने वाले अधिकतर किसान अपनी फसलों को सबसे पहले सीधे ग्राहकों को बेचने की कोशिश करते हैं जिससे कि उन्हें बेहतरीन मुनाफा हो पाता है लेकिन कई बार बाजार में बेहतरीन दाम नहीं मिल पाते जिसके चलते किसान मुनाफा नहीं कमा पाता और यही कारण है कि सरकार के द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया जाता है इस पर सरकार किसानों के फसल खरीदती है। न्यूनतम समर्थन मूल्य में हर फसल को शामिल नहीं किया जाता लेकिन जिन फसलों को शामिल किया जाता है उनके लिए सरकार के द्वारा किसानों को भुगतान किया जाता है।

मुख्यमंत्री भावांतर योजना के अंतर्गत सरकार किसानों से उनकी निर्धारित फसलें तो न्यूनतम समर्थन मूल्य कीमत पर खरीद ही रही है और साथ में अगर वह बाजार में कम कीमत में फसल बेचते हैं तो उन्हें विक्रय मूल्य और लाभकारी मूल्य के बीच का अंतर सरकार के द्वारा प्रदान किया जाता है। इस योजना के द्वारा मध्य प्रदेश के किसान न केवल अपनी लागत को वसूल सकेंगे बल्कि बेहतर मुनाफा कमाने में भी सक्षम होंगे जिससे कि राज्य में कृषि के क्षेत्र में समृद्धि आ सकेगी और किसानों की आय में वृद्धि होगी।

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 का उद्देश्य क्या है?

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 वर्तमान में मध्यप्रदेश में राज्य सरकार द्वारा किसानों के हित में चलाई जा रही सबसे बड़ी और बेहतरीन योजनाओ में से एक है जिसके ऊपर सरकार अच्छा खासा बजट भी खर्च कर रही है तो ऐसे में इस योजना का उद्देश्य  साफ है। मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 का उद्देश्य राज्य में रहने वाले किसानों को उनकी फसलों के लिए उचित मूल्य प्रदान करना है जिससे कि वह अपनी लागत की वसूली कर सके और बेहतरीन मुनाफा कमा सके। मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना के द्वारा किसानों को उनकी लागत और मेहनत के लिए मुनाफा प्रदान करवाने की कोशिश की जा रही हैं।

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 के लाभ

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 वर्तमान में राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही सबसे बड़ी कृषि योजनाओं में से एक है जिसका लाभ किसानों को प्रत्यक्ष तौर पर मिल रहा है। मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 से मिल रहे लाभ कुछ इस प्रकार हैं:

  • मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 के अंतर्गत किसानों से समर्थन मूल्य पर उनकी फसल खरीदी जा रही हैं।
  • योजना के द्वारा कम कीमत में फसल बेचने पर विक्रय मूल्य और लाभकारी मूल्य के बीच का अंतर भी सरकार किसानों को प्रदान कर रही हैं।
  • सरकार से फसलों के बेहतरीन मूल्य प्राप्त करके किसान अगली बार अपनी फसल में अच्छी लागत के द्वारा अपनी आय में वृद्धि कर सकेंगे।
  • मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना के अंतर्गत राज्य में रहने वाले सभी किसान अपनी फसलों के लिए बेहतरीन कीमत प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 की पात्रता

वर्तमान में सरकार के द्वारा जब भी कोई योजना शुरू की जाती है तो उसका लाभ उठाने के लिए कुछ पात्रताए भी तय की जाती है जिससे कि केवल पात्र आवेदकों को ही योजना का लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना 2021 के लिए निर्धारित पात्रता कुछ इस प्रकार है:

  • मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना का लाभ केवल किसान आवेदकों को ही मिलेगा।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक का मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना आवश्यक हैं।
  • योजना का लाभ आवेदक को तभी दिया जाएगा जब उसके पास आधार कार्ड और समग्र आईडी होगी।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास एक एक्टिव मोबाइल नम्बर भी होना चाहिये।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास सभी आवश्यक दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, पहचान पत्र, सिकमी और पट्टा भूमि के मामले में प्राधिकरण का पत्र और मूल भूमि मालिक की ऋण पासबुक, बैंक अकाउंट पासबुक आदि होने चाहिये।

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना के लिए निर्धारित पात्रता के बारे में हम आपको बता चुके हैं तो अगर आप इस योजना के लिए एक पात्र आवेदक हो तो निम्न स्टेप्स को फॉलो करके योजना के लिए आवेदन कर सकते हो:

  • सबसे पहले आपको मध्य प्रदेश की ई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद वहां आपको अपने विक्रय वर्ष के विकल्प को चुनना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने किसान पंजीयन का विकल्प आएगा, उस पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको जानकारी पंजीकरण का प्रकार भरना होगा और मांगी गई जानकारी देनी होगी।
  • अब आपके सामने योजना का आवेदन फॉर्म आ जाएगा जिसमें मांग की गयी सभी जानकारी आपको सटीक रूप से देनी होगी और सभी आवश्यक दस्तावेजों की स्कैंड कॉपी अपलोड करनी होगी।
  • अंत में इस फॉर्म को सबमिट करना होगा।

इस तरह से आप आसानी से योजना के लिए आवेदन कर सकते हो।

मित्रों उम्मीद करते हैं इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपके मन में किसी भी प्रकार की कोई भी शंका नहीं होनी चाहिए धन्यवाद.

Leave a Reply

Your email address will not be published.