धन पर निबंध (Essay on Money in Hindi): Money Nibandh for Student Kids

Money Essay in Hindi: यहां धन पर सबसे सरल और आसान शब्दों में हिंदी में निबंध पढ़ें। नीचे दिया गया धन निबंध हिंदी में कक्षा 1 से 12 तक के छात्रों के लिए उपयुक्त है।

Essay on Money in Hindi (धन पर निबंध): Short and Long

व्यक्तिगत जीवन में धन मनुष्यों की आवश्यताएँ पूरी करता है, धन के बिना व्यक्ति अपने जीवन की जरुरत आवश्यकताओं की पूर्ति नहीं कर सका| कोई भी व्यक्ति धन की बराबरी प्यार के महत्व से नहीं कर सकते है, धन का महत्व सिर्फ धन और आवश्यकताओं की पूर्ति तक सिमित हैं यदि व्यक्ति को धन की आवश्यकता होती है तो वह किसी के प्यार से उसे हासिल नहीं सकता है और नाही धन के बल पर किसीका प्यार पा सकता| धन और प्यार का जीवन में अलग अलग महत्व होता है| व्यक्ति जीवन में धन की आवश्यकता तब हो सकती है जब आपको कुछ खरीदना चाहते हो अपनी आवश्यकता के लिए, जैसे खाना खाने के लिए, पानी के लिए, दूध के लिए, अखबार के लिए, कही घुमने जाने के लिए, नए कपड़े पहनने के लिए, शिक्षा प्राप्त करने के आदि जगहों पर धन की आवश्यकता होती है जिसके कारण आप इन आवश्यकताओं की पूर्ति कर सकते हो.

यदि धन प्राप्ति की बात करें तो, इसे प्राप्त करने के लिए हमको मेहनत होती है या फिर व्यापार, अच्छी नौकरी, अच्छे व्यवसाय आदि के माध्यम से इसकी की जाती है| जीवन व्यतीत करने के लिए धन की बहुत आवश्यकता होती है, धन के बिना जीवन की जरूरतमंद आवश्यकताओं को पूरा नहीं किया जा सकता, व्यक्ति की छोटी छोटी आवश्यकता को धन ही पूरा कर सकता है. प्राचीन (ऐतिहासिक) समय में आधारभूत आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए चीजो का अदल बदल करके की जाती थी परन्तु समय के चलते मुद्रा का निमार्ण हुआ जिसके कारण किसी भी वस्तु, सामान को खरीने के लिए पूंजी की जरुरत होती है इसके बिना जीवन में आप कुछ हासिल नहीं सकते. व्यक्ति को धन की आवश्यकता जगह-जगह पर होती है, आवश्यकता पूर्ति के अलवा किसी भवन निर्माण में भी धन आगे आता है.

वर्तमान में धन की आवश्यकता बहुत तेजी से बढती जा रही क्युकी व्यक्ति का रहन-सहन बहुत महंगा होता जा रहा है, और समाज में जो व्यक्ति बहुत धनि है जिनके पास अनगिनत सम्पत्ति है उनके समाज इज्जत और सम्मान देता है लेकिंग किसी गरीब व्यक्ति को समाज एक घृणा की नजर से देखता है| धन की जरुरत सभी नागरिकों को होती है चाहे वे गरीब व्यक्ति हो या फिर अमीर व्यक्ति लेकिन शहरी क्षेत्र में रह रहे व्यक्ति ग्रामीण व्यक्तियों की तुलना में अधिक अमीर होते है क्यूंकि शहर में कई प्रकार की तकनीकियाँ व् कंपनियां अधिक मजबूत है और ग्रामीण क्षेत्रो में रह रहे व्यक्ति सिर्फ किसानी कृषि पर निर्भर रहते है जिसके चलते उनके शहरी व्यक्ति की तुलना में कम धन मिलता है|

वर्तमान समय में धन के आभाव में आकर मनुष्य. अपने, मित्रो और गैरो तक को नहीं समझता और धन के लिए वह कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहता है| व्यक्ति जल्द और कम समय में अमीर बनने के कारण किसी भी गैर क़ानूनी कार्य को करता है जैसे, जुआ खेलना, चोरी करना, लूट-पाट बैंक रोब्ब्री व् ब्लैक मैलिंग आदि. धन कमाने के रास्ते अनेक है परन्तु सही तरीके से कमाया गए धन से ही मनुष्य आराम की नींद सोता है और गैर क़ानूनी तरीके से कमाया गए धन वाले मनुष्य हमेशा डर के जीते है| सही तरह से कमाए गए धन का दुरूपयोग न करें बल्कि इसे अच्छे कार्यों में लगाएं|

Check Also:

Leave a Comment