एनसीईआरटी समाधान कक्षा 1 हिंदी अध्याय 1 – झूला

एनसीईआरटी समाधान कक्षा एक अध्याय 1 झूला. यहाँ पर कक्षा एक हिंदी पुस्तक अध्याय 1 का अध्याय झुला पर सलूशन जारी कर दिया गया है.

किताबएनसीईआरटी
कक्षा1
विषयहिंदी
अध्याय1
अध्याय नाम1 झूला
श्रेणीएनसीईआरटी समाधान

कक्षा 1 हिंदी अध्याय 1 झूला – एनसीईआरटी समाधान

काव्यांशों की व्याख्या

1. अम्मा आज लगा दे झूला,
इस झूले पर मैं झूलूंगा।
उस पर चढ़कर, ऊपर बढ़कर,
आसमान को मैं छू लूंगा।

झूला झूल रही है डाली,
झूल रहा है पत्ता-पत्ता।
इस झूले पर बड़ा मज़ा है,
चल दिल्ली, ले चल कलकत्ता।

शब्दार्थ : अम्मा-माँ। झूला-पेड़ या छत आदि से लटकाई हुई रस्सियाँ, जिन पर बैठकर झूलते हैं। आसमान-आकाश। डाली-पेड़-पौधे की टहनी।

प्रसंग – प्रस्तुत पंक्तियाँ हमारी पाठ्यपुस्तक रिमझिम, भाग-1 में संकलित कविता ‘झूली’ से ली गई हैं। इस कविता के कवि रामसिंहासन सहाय ‘मधुर’ हैं। इसमें कवि ने एक छोटे बच्चे के मनोभावों को बड़े ही सुंदर ढंग से दर्शाया है।

व्याख्या – उपर्युक्त पंक्तियों में एक बच्चा अपनी माँ से अपने लिए झूला लगाने को कह रहा है। बच्चा अपनी माँ से कह रहा है कि वह उसके लिए एक झूला लगा दे, ताकि वह उस पर चढ़कर और ऊपर उठकर आसमान को छू सके।

झूले के साथ पेड़-पौधे की डालियाँ तथा पत्ते भी झूल रहे हैं। झूले पर बैठकर आनंदित होता बच्चा अपनी कल्पना की उड़ान में झूले को दिल्ली और कलकत्ता ले चलने की बात करता है।

  1. झूल रही नीचे की धरती,
    उड़े चले, उड़े चल,
    उड़ चल, उडु चल।
    बरस रहा हैं रिमझिम, रिमझिम,
    उड़कर मैं लूटू दल-बादल।

शब्दार्थ : रिमझिम बारिश की हल्की फुहार। दल-बदल- बादलों का समूह।

प्रसंग – पूर्ववत।

व्याख्या – उपर्युक्त पंक्तियों में कवि कह रहा है कि झूले पर झूलते बच्चे को नीचे की धरती भी झूलती नज़र आ रही है। बच्चा अपने झूले को और ऊपर उड़ने के लिए कहता है। वर्षा की हल्की फुहार के बीच बच्चे के मन में आकाश में छाए बादलों को लूटने के विचार भी उमड़-घुमड़ रहे हैं।

प्रश्न-अभ्यास
(पाठ्यपुस्तक से)

झूले ही झूले –
प्रश्न 1.
बताओ, इनमें किन चीजों पर तुम झूले की तरह झूल सकते हो?

झूले ही झूले

उत्तर :
टायर, फाटक, पैरवाला झूला, डाली।
मुझे पैरवाले झूले पर झूलने में मजा आता है।
मुझे डाली पर झूलने में डर लगता है।
मुझे फाटक पर झूलने पर डाँट पड़ती है।

रिक्त स्थान भरिए
रिक्त स्थान में उपयुक्त शब्द प्रयोग कर वाक्य पूर्ण कीजिये:

मुझे ………………… पर झूलने में मज़ा आता है।
मुझे ………………… पर झूलने में डर लगता है।
मुझे ………………… पर झूलने पर डाँट पड़ती है।

उपरोक्त रिक्त स्थानों के उत्तर:

मुझे पेड़ वाले झूले पर झूलने में मज़ा आता है।
मुझे बड़े झूले पर झूलने में डर लगता है।
मुझे बड़े झूले पर झूलने पर डाँट पड़ती है।

प्रश्न 2. तुम इन झूलों पर भी झूले होगे। इन झूलों को तुमने कहाँ-कहाँ देखा है? मेला स्कूल पार्क घर का आँगन बगीचा

उत्तर :

झूलों पर भी झूले

प्रश्न 3. झूले से सुहानी को क्या-क्या दिख रहा होगा?

झूले से सुहानी

उत्तर : लड़का, लड़की, गिलहरी, फूल, तितलियाँ, चिड़िया, कुत्ता, खरगोश, गेंद, चूहा।

मिलाओं

मिलाओं

प्रश्न 4. खाली जगह भरो और फिर छुपने की इन जगहों पर बच्चों के चित्र बनाओ।

उत्तर :

खाली जगह भरो
खाली जगह भरो 1

प्रश्न 5. ऊपर बनी चीजों के नाम उन अक्षरों के नीचे लिखो जो उनमें आते हैं।
उत्तर :

ठेलामचलीमचलीअनारनल, नाव
गठरीछाताअलमारीअलमारीअनार

प्रश्न 6. यहाँ मछली दो बार लिखा गया है। क्या किसी और चीज़ का नाम भी तुमने दो बार लिखा है?

उत्तर : “हाँ अलमारी और अनार के नाम दो बार लिखे गए हैं।

Leave a Comment