PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023: Online Application, Eligibility, Documents

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023: Online Application, Eligibility, Documents

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र कैसे खोले. प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र मेडिसिन लिस्ट और हेल्पलाइन नंबर – केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की स्थापना देश के सभी आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को सस्ती और गुणवत्ता वाली दवाइयों तक पहुंचाने के उद्देश्य से की है। इस केंद्र के माध्यम से देश के नागरिक अब जेनेरिक दवाइयों को बहुत कम मूल्य पर प्राप्त कर सकते हैं, जिससे उन्हें दवाइयों की लागत की चिंता करने की आवश्यकता नहीं होती। इस आलेख में हम आपको प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे, जैसे कि केंद्र सरकार ने इन केंद्रों को किस उद्देश्य से शुरू किया है, इसके लाभ और विशेषताएं क्या हैं, इत्यादि.

NABARD Yojana 2023: नाबार्ड डेयरी फार्मिंग योजना Online Application, Bank Subsidy

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023

योजनाप्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र
आरम्भकेंद्र सरकार द्वारा
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttp://janaushadhi.gov.in/index.aspx
वर्ष2023
लाभार्थीदेश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिक
उद्देश्यदेश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिको को कम मूल्य पर दवाइयां उपलब्ध कराना

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना

  • प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का आरंभ केंद्र सरकार द्वारा किया गया है।
  • इन केंद्रों के माध्यम से देश के कमजोर आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को बहुत कम मूल्य पर जेनेरिक दवाइयां प्रदान की जाएगी।
  • फार्मा एडवाइजरी फोरम ने 23 अप्रैल 2008 को इस योजना को आरंभ करने का निर्णय लिया था।
  • इन केंद्रों को देश के करीब 734 जिलों में खोला जाएगा।
  • PM Jan Aushadhi Kendra के माध्यम से कम कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएं देश के सभी नागरिकों को प्रदान की जाएगी।
  • फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया द्वारा PM Jan Aushadhi Kendra का संचालन किया जाएगा।
  • इसके माध्यम से सस्ती और गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएं देश के नागरिकों को प्रदान की जाएगी।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना का उददेश्य

  • प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का मुख्य उद्देश्य देश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को बहुत कम कीमत पर दवाइयां प्रदान करना है।
  • यह केंद्र देश के सभी जरूरतमंद नागरिकों को बहुत ही कम मूल्य पर जेनेरिक दवाइयां प्रदान करेगा, जिनका प्रभाव ब्रांडेड दवाइयों की तरह होगा।
  • इससे देश के सभी आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को दवाई प्राप्त करने हेतु किसी भी आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023 के खुलने से देश के सभी नागरिकों के स्वास्थ्य में सुधार होगा।
  • इसके साथ ही देश में इन केंद्रों के आरंभ होने से बहुत से नागरिकों को रोजगार की प्राप्ति भी हो सकेगी, जिससे देश में बेरोजगारी दर में भी कमी आएगी।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजना मार्जिन तथा प्रोत्साहन

  • प्रत्येक दवा के एमआरपी पर करीब 20% का मार्जिन पात्र नागरिकों को PM Jan Aushadhi Kendra के तहत प्रदान किया जाएगा।
  • केंद्र सरकार द्वारा महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, और पिछड़े इलाकों में खोले गए केंद्रों को विशेष प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • उद्यमियों को 200,000 रुपए की राशि के रूप में भी प्रोत्साहित किया जाएगा, इसमें से 150,000 रुपए फर्नीचर और फिक्सचर के लिए और 50,000 रुपए कंप्यूटर, इंटरनेट, प्रिंटर, स्कैनर, आदि के लिए प्रदान किए जाएंगे।
  • यह राशि सरकार द्वारा एकमुश्त प्रदान की जाएगी, बिल जमा करने की स्थिति में ही दी जाएगी, और यह राशि केवल वास्तविक व्यय तक ही सीमित होगी।
  • Pradhan Mantri Jan Aushadhi Kendra को करीब 500,000 रुपए की राशि का अनुदान प्रदान किया जाएगा, जिसमें से सरकार द्वारा पीएमबीआई से की गई मासिक खरीद की 15% की दर से प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • इसके अंतर्गत अधिकतम 15,000 रुपए की राशि हर महीने में प्रदान की जाएगी, जिसकी सीमा 500,000 रुपए होगी।
  • इसके अलावा, महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े जिलों में खोले गए केंद्रों को भी इस प्रोत्साहन का लाभ प्रदान किया जाएगा।

MGNREGA Pashu Shed Yojana 2023: मनरेगा पशु शेड योजना कैसे Apply करे

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के लाभ तथा विशेषताएं

  • केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र 2023 को आरंभ किया गया है, जिसका मुख्य उद्देश्य देश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को कम मूल्य पर दवाइयां प्रदान करना है।
  • इन केंद्रों के माध्यम से देश के सभी आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा, इससे नागरिको को दवाई प्राप्त करने हेतु आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • इन केंद्रों के माध्यम से बहुत कम कीमत पर जेनेरिक दवाइयां देश के सभी जरूरतमंद और पात्र नागरिकों को प्रदान की जाएगी, इन दवाइयों को प्रभाव ब्रांडेड दवाइयों जैसा ही होगा।
  • फार्मा एडवाइजरी फोरम द्वारा 23 अप्रैल 2008 को इस योजना को आरंभ करने का निर्णय एक बैठक के दौरान लिया गया था, जिसके अंतर्गत इन केंद्रों को देश के करीब 734 जिलों में खोला जाएगा।
  • इसके अतिरिक्त, फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया द्वारा PM Jan Aushadhi Kendra का संचालन किया जाएगा, जिससे कम कीमतों पर गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाइयां नागरिकों को प्राप्त हो सकेगी।
  • वित्तीय वर्ष 2022-23 में करीब 814.21 करोड़ रुपए की बिक्री इन केंद्रों के माध्यम से की गई है, जिससे देश के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों की करीब 4800 करोड़ रुपए की बचत हुई है।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र को खोलने हेतु अनिवार्य संरचना

  • प्रत्येक दवा के एमआरपी पर करीब 20% का मार्जिन पात्र नागरिकों को PM Jan Aushadhi Kendra के तहत प्रदान किया जाएगा।
  • केंद्र सरकार द्वारा महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, और पिछड़े इलाकों में खोले गए केंद्रों को विशेष प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • उद्यमियों को 200,000 रुपए की राशि के रूप में भी प्रोत्साहित किया जाएगा, इसमें से 150,000 रुपए फर्नीचर और फिक्सचर के लिए और 50,000 रुपए कंप्यूटर, इंटरनेट, प्रिंटर, स्कैनर, आदि के लिए प्रदान किए जाएंगे।
  • यह राशि सरकार द्वारा एकमुश्त प्रदान की जाएगी, बिल जमा करने की स्थिति में ही दी जाएगी, और यह राशि केवल वास्तविक व्यय तक ही सीमित होगी।
  • Pradhan Mantri Jan Aushadhi Kendra को करीब 500,000 रुपए की राशि का अनुदान प्रदान किया जाएगा, जिसमें से सरकार द्वारा पीएमबीआई से की गई मासिक खरीद की 15% की दर से प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • इसके अंतर्गत अधिकतम 15,000 रुपए की राशि हर महीने में प्रदान की जाएगी, जिसकी सीमा 500,000 रुपए होगी।
  • इसके अलावा, महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े जिलों में खोले गए केंद्रों को भी इस प्रोत्साहन का लाभ प्रदान किया जाएगा।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र से समबन्धित महत्वपूर्ण जानकारी

  • प्रत्येक दवा के एमआरपी पर करीब 20% का मार्जिन पात्र नागरिकों को PM Jan Aushadhi Kendra के तहत प्रदान किया जाएगा।
  • केंद्र सरकार द्वारा महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, और पिछड़े इलाकों में खोले गए केंद्रों को विशेष प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • उद्यमियों को 200,000 रुपए की राशि के रूप में भी प्रोत्साहित किया जाएगा, इसमें से 150,000 रुपए फर्नीचर और फिक्सचर के लिए और 50,000 रुपए कंप्यूटर, इंटरनेट, प्रिंटर, स्कैनर, आदि के लिए प्रदान किए जाएंगे।
  • यह राशि सरकार द्वारा एकमुश्त प्रदान की जाएगी, बिल जमा करने की स्थिति में ही दी जाएगी, और यह राशि केवल वास्तविक व्यय तक ही सीमित होगी।
  • Pradhan Mantri Jan Aushadhi Kendra को करीब 500,000 रुपए की राशि का अनुदान प्रदान किया जाएगा, जिसमें से सरकार द्वारा पीएमबीआई से की गई मासिक खरीद की 15% की दर से प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा।
  • इसके अंतर्गत अधिकतम 15,000 रुपए की राशि हर महीने में प्रदान की जाएगी, जिसकी सीमा 500,000 रुपए होगी।
  • इसके अलावा, महिला उद्यमी, दिव्यांग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़े जिलों में खोले गए केंद्रों को भी इस प्रोत्साहन का लाभ प्रदान किया जाएगा।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने हेतु पात्रता

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक व्यक्ति के पास डी फार्मा/बी फार्मा की डिग्री होनी चाहिए, लेकिन डिग्री धारक को नियुक्त करना अनिवार्य नहीं है।
  • इसके अतिरिक्त, यदि कोई केंद्र एक एनजीओ या संगठन खोलना चाहता है, तो उस स्थिति में डी फार्मा या बी फार्मा डिग्री धारक को नियुक्त करना अनिवार्य हो सकता है, और उसका प्रमाण पत्र आवेदन जमा करते समय या अंतिम अनुमोदन के समय प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
  • यह केंद्र खोलने के लिए सरकारी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों में अस्पताल परिसर में सरकारी और चैरिटेबल ऑर्गेनाइजेशन को प्राथमिकता दी जाएगी।

PM Jan Aushadhi Kendra 2023 Opening Process: प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले, आपको PM Jan Aushadhi Kendra की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर, “अप्लाई फॉर पीएमबीजेके” विकल्प पर क्लिक करें।
  • “क्लिक हियर टू अप्लाई ऑनलाइन” विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब, आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा, जहाँ आपको “रजिस्टर नाम” विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म प्रदर्शित होगा, जिसमें आपको आपके बारे में सभी जानकारी को भरना होगा, जैसे कि आपका नाम, जन्म की तारीख, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, राज्य, यूजर आईडी, पासवर्ड, आदि।
  • इसके बाद, “सबमिट” विकल्प पर क्लिक करें, और इस प्रक्रिया के माध्यम से आप प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र खोलने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.