Essay in Hindi

Essay on Science and Technology in Hindi

विज्ञान और तकनीकी पर निबंध – Essay on Science and Technology in Hindi

वर्तमान युग में विज्ञान मानव जीवन के लिए वरदान से कम नहीं है क्योंकि आज हर काम तकनीकी से ही संपन्न हो रहा है जिसमें समय तथा श्रम की बचत हो रही है। पुराने समय में तकनीकी व उत्तम साधनों तथा पद्धतियों के अभाव में जहां एक ओर मानव समाज दुर्दशा का शिकार था। वहीं दूसरी ओर वर्तमान समय में आधुनिकीकरण के चलते मानव विकसित होकर अच्छा जीवन जी रहा है

तकनीकी और मानव जीवन

तकनीकी और मानव जीवन – लगभग 400 – 500 वर्ष पूर्व जहां भारत स्वतंत्रता के लिए संघर्ष कर रहा था। वहीं दूसरी ओर विश्व के विभिन्न देशों में नवीनतम आविष्कारों का जनन हो रहा था। टेलीफोन, बल्ब, बिजली, हवाई जहाज, कंप्यूटर इत्यादि महत्वपूर्ण आविष्कार जो उस समय किए गए, आने वाले समय में मानव जीवन के लिए उपयोगी साबित हुए। 1947 में स्वतंत्रता प्राप्ति के उपरांत भारत ने अपनी खोई हुई ताकत और पहचान को दोबारा प्राप्त करना प्रारंभ कर दिया। वह विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी ही थीं जिन्होंने भारत को वास्तविक पहचान दिलाई।
आज भारत की पहचान रेलवे प्रणाली, मेट्रो, शिक्षा तथा स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतरीन कार्यों के लिए की जाती है कोरोना महामारी के भीषण संकट में कोरोना टीका (वैक्सीन) बनाके भारत ने इतिहास रच दिया। आज भारत में सरकारी विभागों से लेकर शैक्षणिक संस्थाओं का काम, रेलवे टिकट और शिक्षण प्रणाली, हवाई यात्राएं सब कुछ ऑनलाइन हो गया है जो एक बड़ी उपलब्धता है.

तकनीकी के द्वारा मानव जीवन में परिवर्तन

1. लोगों को अनाजों को पीसने के लिए पत्थर के देशी उपकरण का सहारा लेना पड़ता था। जिसमें काफी मेहनत होती थी लेकिन वैज्ञानिकों ने बिजली से चलने वाली आटा चक्की का अविष्कार करके इस काम को बहुत ही आसान कर दिया है।
2. आवागमन तथा माल परिवहन के लिए लोगों का काफी समय खर्च होता था। आज भारत के प्रत्येक राज्य में सड़क, रेल की सुविधा मुहैया हो चुकी है। हम घर बैठकर परिवहन साधन के जैसे बस, रेल, हवाई जहाज का टिकट बुक कर सकते हैं तथा लोकेशन की जानकारी भी ले सकते हैं।
3. कोरोना महामारी के दौर में सामाजिक दूरी के पालन में लोगों को घर से बाहर निकलने की मनाही थी। तो ऐसे समय में सारा काम ऑनलाइन ने ही किया। सरकारी व प्राइवेट संस्थानों तथा शिक्षा संस्थानों ने ऑनलाइन घर से ही वर्चुअल मीटिंग के जरिए काम किया, जो कि तकनीकी मदद से ही आम जनजीवन के लिए काफी उपयोगी साबित हुआ।

आधुनिक तकनीकी का महत्व

आधुनिक तकनीकी का महत्व – विज्ञान व तकनीकी देश के विकास की रीड हैं। इसके विकास के लिए आवश्यक है, कि विश्व के सभी देश कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलें क्योंकि विज्ञान और तकनीकी का विकास तथ्यों के विश्लेषण और उचित समय पर निर्भर करता है। प्राचीन काल में भारत कृषि के बुरे दौर से गुजर रहा था, लेकिन नवीन कृषि पद्धतियों, उन्नत किस्मों, हाइब्रिड बीजों, के विकास से आज भारतीय किसान अत्यधिक उत्पादन प्राप्त करता है। इसी तरह भारत चिकित्सा, रसायन विज्ञान, आर्किटेक्चर, खगोल विज्ञान, परमाणु ऊर्जा, अंतरिक्ष विज्ञान इत्यादि रक्षा क्षेत्रों मैं नई – नई संभावनाओं की खोज कर आविष्कार कर रहा है।

पहले किसी कार्य के पूर्ण होने में समय लगता था। इसी तरह सन 1947 से जब से भारत स्वतंत्र हुआ तभी से तकनीकी तथा आर्थिक विकास के लिए संघर्ष करता आ रहा है। जिसमें भारत को कई सफलताएं तथा असफलताएं भी मिली। भारत की उपलब्धियों में पोखरण में परमाणु बम का परीक्षण, इसरो द्वारा सैटेलाइट लॉन्च इत्यादि भारत की महत्वपूर्ण सफलताएं हैं अतः विज्ञान और तकनीकी दोनों एक सिक्के के दो पहलू हैं, जो मानव जीवन व आधुनिक समाज के लिए अतिआवश्यक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.