आतंकवाद पर निबंध (Essay on Terrorism in Hindi): Terrorism Nibandh for Student Kids

Terrorism Essay in Hindi: यहां आतंकवाद पर सबसे सरल और आसान शब्दों में हिंदी में निबंध पढ़ें। नीचे दिया गया आतंकवाद निबंध हिंदी में कक्षा 1 से 12 तक के छात्रों के लिए उपयुक्त है।

Essay on Terrorism in Hindi (आतंकवाद पर निबंध): Short and Long

आतंकवाद हिंसापूर्वक देश के आमलोगो को डराकर कानून के खिलाफ जाकर तुच्छ एवं नीच कृत्य का नाम हैं| वर्तमान में दुनिया में आतंकवाद एक ऐसी समस्या है जिसके कारण से लोग आतंकवादी हमलों से डरते रहते है| आज आतंकवाद देश के लिए एक बहुत बड़ी समस्या भरा मुद्दा बन चूका हैं| आतंकवाद के विषय पर यहाँ हमने एक लेख प्रकाशित किया हैं जोकि आतंकवाद पर निबंध के ऊपर हैं| जिसका अध्यन करने से स्कूली छात्र/छात्राएं आतंकवाद के ऊपर निबंध लिखने एवं बोलने में सहायक होगा|

विधार्थियों के लिए आतंकवाद पर निबंध हिंदी में – Complete Essay on Terrorism in Hindi

आतंकवाद गैर क़ानूनी तरीकों से देश में हिंसा जैसी घटनाएं फैलता है, जिससे देश और लोगो को हानि पहुँचती हैं| आतंकवाद हिंसा फैलाने के लिए आतंकवादियों का प्रयोग किया जाता है। दुनिया में आज आतंकवाद एक सामजिक और ज्वलंत मुद्दा बन चुका है। आतंकवाद अपनी बात मनमाने के लिए गैर क़ानूनी तरीकों से आम लोगों और सरकार को डराने-धमकाने के करते हैं| आतंकवाद अपने किसी लक्ष्य को आसानी से हासिल करने के लिए देश में कई प्रकार की हिंसाएँ के हथकंडे अपनाते हैं| आतंकवादियों को किसी भी प्रकार का भय नहीं होता और इनके पास कोई नियम-कानून नहीं होता; यह किसी भी हिंसा करने से नहीं डरते.

वर्तमान में आतंकवाद एक बहुत बड़ी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय समस्या बना हुआ है| जिसने देश को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष दोनों रूपों से प्रभावित किया है| सभी देश आतंकवाद के खिलाफ है और इसका सामना करने की कोशिश करते रहते है| आतंकवाद हमेशा अपने निशाना आम लोगो को बनाते है जिसमें आम लोगो की जान तक चली जाती हैं|

आतंकवाद देश में मानवता को प्रभावित करने के लिए अत्यधिक खतरनाक और भयावह बीमारी हैं| जो आम व्यक्तियों को मानसिक और बौद्धिक रूप से प्रभावित कर रही हैं| चाहे वह छोटे देश हो या बड़े देश आतंकवाद सभी जगह मौजूद हैं| देश-दुनिया में दिन-प्रतिदिन आतंक का प्रसार बढता जा रहा हैं|

आतंकवाद का कोई मजहव नहीं होता इसका लक्ष्य केवल समाज या उपनिवेश पर हमला करना होता हैं और अपने कटुत और निच लक्ष्य को हासिल करना होता हैं| आतंकवाद कभी किसी पर दया नहीं करते वे अपने दोस्तों, परिवार, मासूम बच्चो, महिलाओं और बूढ़ों से कभी समझौता नहीं करते हैं वेह सिर्फ भीड़-भाड़ भरे स्थान पर बम बिस्फोट, गन-फायर जैसे तुच्छ काम करते हैं और इनका शिकार केवल आम और मासूम व्यक्ति बनते हैं.

भारत में वर्ष 1980 से लेकार आज भी आतंकवाद जैसे हमले होते रहते हैं कश्मीर में आये दिन शिजफायर का उलंग्घन किया जाता हैं जिसमे हमारे देश के वीर जवान शहीद हो जाते हैं| भारत में हुए 14, फरवरी 2019 को पुल्बमा अटैक और 7, मार्च 2019 को जम्मू बसस्टैंड ग्रेनेड ब्लास्ट में निर्दोष व्यक्ति और जवान शहीद हो गए थे|

आतंकवाद देश के विकास की सबसे बड़ी रुकावट होती हैं और वर्तमान में कई आतंकवाद देश पर शासन कर रहा हैं, जहाँ हम सभी को दौबारा आजाद होने की जरुरत हैं परन्तु ऐसा लगता हैं की आतंकवाद हमेशा अपनी जड़ें गहरी फैलाता रहेगा| क्यूंकि कई देशो की आमिर व्यक्ति आतंकवाद के अनुचित उद्देश्यों को पूरा कराने के लिए उन्हें समर्थन कर रहे हैं|

यदि आतंकवाद को जड़ से ख़त्म करना है तो हम लोगो को एक साथ मिलकर सोचना चाहिए साथ ही राज्य से पूर्ण तरह से आतंक को हटाने के लिए एक मजबूत नीति बनानी चाहिए|

Check Also:

Leave a Comment