Biography in Hindi

स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के इतिहास से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य और जानकारी

जब-जब देश की आजादी की बाद चलती तो भगत सिंह जैसे वीर साहसी और क्रन्तिकारी स्वतंत्रता सेनानी का जिक्र जरुर होता है. स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह देश की आजादी के लिए अपने साथी राजगुरु और सुखदेव के साथ हस्ते हस्ते फांसी पर चढ़ गए थे. अमर शहीद भगत सिंह ने देश की आजादी के लिए कई भारतीय राष्ट्रिय आन्दोलन में अपना बहुत बड़ा योगदान दिया था. वीर क्रन्तिकारी भगत सिंह की आयु मात्र 23 वर्ष की थी जब उन्हें बिर्टिश सरकार ने फांसी पर चड़ा दिया था. भगत सिंह के मन में बचपन से ही देश भक्ति के प्रेम की भावना उत्पन्न हो उठी थी.

Biography of Bhagat Singh in Hindi

अमर शहीद भगत सिंह का जन्म 28 सितंबर, 1907 लायलपुर जिले में बंगा गांव (जो अभी पाकिस्तान में है) एक सिख परिवार में हुआ था. इनके पिता जी का नाम सरदार किशन सिंह और माता का नाम विद्यावती कौर था. भगत सिंह के जन्म के समय इनके पिता किशन सिंह, चाचा अजित और स्वरण सिंह जेल में थे.

भगत सिंह ने अपनी 5वीं तक पढाई अपने गाँव में और आगे की पढाई के लिए उनके पिता जी ने उनका दाखिला दयानंद एंग्लो वैदिक हाई स्कूल, लाहौर

में करवा दिया था. वर्ष 1923 में उन्होंने अपनी इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की जिसके बाद उनके विवाह की बात-चीत का जिक्र होने लगा इसे सुने वह लाहौर भागकर कानपूर आ गए और देश की आजादी के लिए लादे और अपना जीवन देश की आजादी के लिए समर्पित कर दिया.

अपनी छोटी सी उम्र में ही भगत सिंह महात्मा गाँधी जी के साथ असहयोग आन्दोलन से जुड़ गए और बिना डर के बहादुरी से बिर्टिश सेना को ललकारा.

13 अप्रैल 1919 को हुए जलियांवाला बाग़ हत्याकांड ने भगत सिंह के मन में गहरा प्रभाव डाला और इस काण्ड के बाद भगत सिंह चन्द्र शेखर आजाद के साथ मिलकर क्रांतिकारी संगठन तैयार किया.

लाहौर षड्यंत्र के मामले में भगत सिंह,  सुखदेव और राजगुरू

को फांसी की सजा सुनाई गई और बटुकेश्वर दत्त को उम्र भर की कारावास का दंड दिया गया. भगत सिंह , सुखदेव और राजगुरू

को 23 मार्च, 1931 की शाम सात बजे

फांसी पर चड़ा दिया गया और उन तीनो ने हंसते-हँसते देश

की आजादी के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया.

भगत सिंह एक अच्छे पाठक व् लेखक भी थे उन्होंने अपने जीवन में कई पत्र-पत्रिकाओं के लिए लिखा व संपादन भी किया.

मुख्य कृतियाँ : ‘एक शहीद की जेल नोटबुक (संपादन: भूपेंद्र हूजा), सरदार भगत सिंह : पत्र और दस्तावेज (संकलन : वीरेंद्र संधू), भगत सिंह के संपूर्ण दस्तावेज (संपादक: चमन लाल).

क्रन्तिकारी खुदीराम बोस के इतिहास से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य और जानकारी

मेजर ध्यान चंद जीवन परिचय (जीवनी)

अटल बिहारी वाजपेयी जीवन परिचय (जीवनी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *