Career Tips

How to Choose a Right Career After 12th?


प्रत्येक वर्ष 12th कक्षा पास करके लाखो बच्चो का स्कुल समाप्त हो जाता है फिर उनके मन में एक ही प्रश्न होता है की वे 12th के बाद अब ऐसा क्या करे जिससे उनके भविष्य में कोई कठिनाई न आ सकें, परन्तु यह निर्णय लेना उनके लिए बहुत मुश्किल होता है की वह किस करियर क्षेत्र को चुने| आज के समय में असंख्य करियर विकल्पों में से ठीक करियर की रह तय करना एक मुश्किल और भी हो सकता है|

12वीं के बाद करियर विकल्प चुनने में आप दोस्तों और परिवार के सदस्यों से सलाह लेने के बावजूद भी आपके मन में यही प्रश्न उठता है की क्या आप जो कर रहे है वह सही विकल्प है या नहीं?

यदि आपको पता है की आपको कौनसा करियर पथ लेना है तो फिर भी आप प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं की तयारी कर सकते हो या फिर किसी अच्छे कॉलेज में आवेदन कर सकते हो. हमने निचे कुछ ऐसे जरुरी तथ्य प्रकाशित किए है जो आपके करियर विकल्प चुनने में सहायक हो सकते है|

अपनी रूचि को पहचानें :- 12 वीं के बाद करियर बनाना एक बहुत महत्वपूर्ण निर्णय होता है इस स्थिति में आपके अपने परिवार और दोस्तों से में बहुत सलाह मिलेंगी परन्तु यह महत्वपूर्ण है की आप किसी किसी ऐसी दिशा को चुने को आपकी रूचि और योग्यता के साथ संरेखित करता हो|

यदि आप किसी पारंपरिक कैरियर क्षेत्र में रुचि रखते हैं जैसे की इंजीनियर, डॉक्टर, या एक व्यावसायिक व्यवसायी, तो इसमें आपके लिए एक ही स्ट्रीम में एक कोर्स के साथ जाना सबसे अच्छा हो सकता है।

यदि आप इनसे अलग किसी और क्षेत्र में रूचि रखते है और और संगीत या कला में अपना करियर बनाना चाहते हैं या अभिनेता/अभिनेत्री बनना चाहते हैं, तो आपको अपनी रचनात्मक गतिविधियों या एक धारा के अनुरूप एक कोर्स का चयन करना चाहिए, जिससे आप उनका अनुसरण कर सकें।

सही कोर्स ही चुनें: इन दिनों बहुत से कोर्सेज मौजूद है जिनमें से कोई एक आपकी करियर की राह से जुड़ सकता है, फिर भी आपके पास डिग्री कोर्स, एक डिप्लोमा कोर्स, कार्यदिवस पाठ्यक्रम, सप्ताहांत पाठ्यक्रम, या दूरस्थ शिक्षा / अंशकालिक अध्ययन जैसे कैरियर विकल्प है। लेकिन इन्हें चुनने से पहले इन पाठ्यक्रम के बारे में विशेष से पढ़े और समझे और फिर निर्णय लें और सही ही कोशिश करें की पूर्व छात्रों या वरिष्ठों से सही पाठ्यक्रम के बारे पूछे और उनके बारे में अधिक जानने की कोशिश करें|

भविष्य की संभावनाओं को जानें: अब आप यह जानते हो की आपकी रूचि किस क्षेत्र में है और आप उन रुचियों को आगे बढाने के लिए खुद को कैसे प्रशिक्षित कर सकते हो, तो आपके द्वारा चुनी गई लाइन की भविष्य की संभावनाओं का मूल्यांकन करना महत्वपूर्ण हो जाता है।

यदि उपर्युक्त चरण अभी भी आपको उस पथ के बारे में स्पष्टता नहीं देते हैं जो आपको लेना चाहिए, तो रिवर्स दृष्टिकोण का प्रयास करें। इस दृष्टिकोण में, भविष्य में कुछ वर्षों के लिए पेशेवर रूप से खुद को कल्पना करें। एक बार जब आप उस लक्ष्य को जान लेते हैं, तो उस योग्यता को समझने के लिए रिवर्स में योजना बनाएं जो आपको उस लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करेगी।उदाहरण के लिए, यदि आप एक पायलट बनना चाहते हैं, तो रिवर्स में योजना बनाएं और उस धारा / पाठ्यक्रम का पता लगाएं जो आपके करियर की जरूरतों के लिए सबसे अच्छा है। तदनुसार, उस कोर्स को चुनें जो आपको उस लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद कर सकता है।

हालाँकि, अगर आप अभी भी इस बारे में स्पष्ट नहीं हैं कि किस रास्ते पर जाना सही है, तो झल्लाहट व जल्दबाजी न करें। किसी ऐसे विषय में डिग्री कोर्स को चुनें जो आपके रुचिकर को बनाए और उस शोध जारी रखे। कॉलेज की गतिविधियों में भाग लें और विभिन्न व्यवसायों के लोगों के साथ बातचीत करें। आप जहां हैं, वहां अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें और आखिरकार, आपको अपना रास्ता मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *