246 एथलीटों और प्रशिक्षकों को पहले साई संस्थागत पुरस्कार से सम्मानित किया गया

हाल ही में केन्द्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री श्री अनुराग ठाकुर ने देश के 162 एथलीटों और 84 प्रशिक्षकों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में उनके अतुलनीय योगदान के लिए पहला साई संस्थागत पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. साथ ही उन्हें 85.02 लाख रुपये के नकद पुरस्कार देने की घोषणा की गयी है. नई दिल्ली में युवा कार्यक्रम एवं खेल राज्यमंत्री श्री निसिथ प्रमाणिक की उपस्थिति में उन्होंने यह पुरस्कार प्रदान किये है. इस अवसर पर खेल विभाग की सचिव श्रीमती सुजाता चतुर्वेदी, और मंत्रालय के अन्य अधिकारी भी मौजूद थे..

  • दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में समारोह के दौरान 162 एथलीटों और 84 प्रशिक्षकों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अतुलनीय योगदान के यह पुरस्कार दिया गया है.
  • यह पुरस्कार 2016-17, 2017-18, 2018-19 और 2019-20 के लिए योग्य उम्मीदवारों को दिए गए है.
  • सभी पुरस्कार विजेताओं को प्रशस्ति पत्र के साथ – साथ एक विशेष ब्लेजर भी दिया गया है.
  • इन पुरस्कारों की चयन समिति में भारतीय खेल प्राधिकरण के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ-साथ कई प्रख्यात खिलाड़ी भी शामिल थे.
  • श्री अनुराग ठाकुर ने कहा है की, प्रत्येक एथलीट अपनी पीढ़ी के लिए एक प्रेरणा स्रोत है.
  • यह पुरस्कार वर्ष 2016 से राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न खेल प्रोत्साहन योजनाओं के तहत साईं के एथलीटों और प्रशिक्षकों के उनके योगदान के लिए दिया गया है. इस अवसर पर श्री अनुराग ठाकुर ने एथलीटों और प्रशिक्षकों को बधाई देते हुए कहा की प्रत्येक एथलीट अपनी पीढ़ी के लिए एक प्रेरणास्रोत है.

    भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI)

  • भारतीय खेल प्राधिकरण यानी साईं एक सर्वोच्च राष्ट्रीय खेल निकाय है.
  • साईं को देश के खेल के विकास के लिए भारत सरकार के युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा वर्ष 1984 में स्थापित किया गया था.
  • साईं नेताजी सुभाष हाई एल्टीट्यूड ट्रेनिंग सेंटर के साथ दिल्ली की राष्ट्रीय राजधानी में 5 स्टेडियमों का भी प्रबंधन करता है.
  • साईं के 2 खेल शैक्षणिक संस्थान, 10 क्षेत्रीय केंद्र, 14 उत्कृष्टता केंद्र, 56 खेल प्रशिक्षण केंद्र और 20 विशेष क्षेत्र खेल है.
  • Leave a Reply

    Your email address will not be published.