यूपीएससी परीक्षा के बारे में सम्पूर्ण जानकारी

यूपीएससी क्या है?

UPSC का पूरा नाम संघ लोक सेवा आयोग है| जिसकी स्थापना 1 अक्टूबर 1926 में हुई थी, यूपीएससी का मुख्यालय दिल्ली में स्थित है| इसका काम अखिल भारतीय सेवाओं, केंद्रीय सेवाओं और भारतीयसंघ सशस्त्र बलो के साथ – साथ संवर्गों के लिए भर्ती प्रक्रिया आयोजित करना है| यह एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है जो राज्य सरकार और केंद्र सरकार के तहत 24 सेवाओं मेन भर्ती के लिए जिम्मेदार होती है.


यूपीएससी परीक्षा के लिए आयु सीमा क्या है?

आयु सीमा – इसमे सामान्य वर्ग के लिए न्यूनतम 21 वर्ष तथा अधिकतम 32 वर्ष की आयुसीमा निर्धारित की गई है| OBC उम्मीदवारों के लिए 3 वर्ष की तथा एससी/एसटी उम्मीदवारों के लिए 5वर्ष की छुट दी गई है|


यूपीएससी परीक्षा के लिए योग्यता?

योग्यता – यूपीएससी की परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्मीदवार के पास किसी भी यूजीसी मान्यता प्राप्त विश्वविध्यालय से किसी भी विषय में ग्रेजुएट डिग्री होनी चाहिए.
राष्ट्रियता – केवल भारतीय नागरिक ही UPSC की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं|


यूपीएससी परीक्षा की प्रक्रिया के बारे में?

परीक्षा की प्रक्रिया – इसकी परीक्षा 3 चरणों में सम्पन्न होती है|
1. Prelims
2. Mains
3. interview
प्रेलिंस (prelims) – प्रथम चरण प्रेलिंस होता है| इसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्न पुछे जाते हैं| इसमें 2 पेपर होते हैं| जिसमें पहला पेपर सामान्य अध्ययन (general studies) तथा दूसरा पेपर सिविल सर्विसेस एप्टिट्यूड टेस्ट का होता है| ये दोनों पेपर 200 अंकों के होते हैं| इन्हें हल करने के लिए प्रत्येक उम्मीदवार को 4 घंटों का समय दिया जाता है| इस परीक्षा के अंक मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार के अंकों के साथ नहीं जोड़े जाते हैं| परंतु इसमें पास हुये बिना उम्मीदवार मुख्य परीक्षा में शामिल नहीं हो सकते|

मेंस (mains) – इसमें कुल 9 पपेर्स होते हैं| जिनमें लगभग 180 से 200 प्रश्न पुछे जाते हैं जो कुल 1750 अंक के होते हैं| प्रत्येक पेपर को हल करने के लिए सभी उम्मीदवारों को 3 घंटों का समय दिया जाता है|


पहले प्रश्न में उम्मीदवार को 18 भारतीय भाषाओं में से किसी एक भाषा को चुनना होता है जिसके आधार पर उन्हे यह पेपर देना होता है|इसमें 20 से 25 प्रश्न पुछे जाते हैं जो कुल 300 अंको के होते हैं| इस पेपर के अंकों को भी फाइनल रिज़ल्ट में नहीं जोड़ा जाता है|

दूसरे पेपर में अंग्रेजी भाषा से प्रश्न पुछे जाते हैं ये भी 300 अंकों के होते हैं तथा इसके अंक भी फाइनल रिज़ल्ट में नहीं जोड़े जाते हैं|

तीसरा पेपर निबंध (Essay writing) का होता है| इसमें दो खंड होते हैं| प्रत्येक खंड से एक – एक निबंध लिखना होता है| इसके कुल अंक 250 होते हैं| इस पेपर के अंक फाइनल रिज़ल्ट में जोड़े जाते हैं|

चौथा, पंचवा, छटवां तथा सातवाँ ये सभी प्रश्न पत्र सामान्य अध्ययन के होते हैं| प्रत्येक प्रश्न पत्र के 250 अंक निर्धारित होते हैं| जिनमें सामाजिक, आर्थिक इत्यादि विसयों से प्रश्न पुछे जाते हैं|

आठवें और नौवे पेपर वैकल्पिक होते हैं| जिनमें आप अपनी अभिरुचि के अनुसार विसय चुन सकते हैं| प्रत्येक प्रश्न पत्र 250 अंक का होता है| इनके अंक भी फाइनल रिज़ल्ट में जोड़े जाते हैं|

Interview – यह इस परीक्षा का तीसरा और अंतिम पड़ाव होता है| यह बहुत महत्वपूर्ण चरण है| मुख्य को पास करने के बाद उम्मीदवार को साक्षात्कार में शमिक होने का अवसर मिलता है| यह कुल 750 अंकों का होता है| इसमें अंक मेरिट लिस्ट में जोड़े जाते हैं| इसे हम अपनी रुचि अनुसार हिन्दी, अंग्रेजी इत्यादि किसी भी भाषा में दे सकते हैं.

Check Also:

  • Posts not found

Leave a Comment