Samanya Gyan

श्रीमती शीला दीक्षित पर महत्वपूर्ण तथ्य

इस लेख में हमने हमने भारतीय कांग्रेस की अनुभवी एवं दिल्ली राज्य की तीन बार रह चुकी पूर्व महिला मुख्य मंत्री श्रीमती शीला दीक्षित की बारे में बेहद महत्वपूर्ण सामान्य ज्ञान एवं रोचक तथ्य प्रकाशित किए है जिहने पढने के बाद आपको आपको श्रीमती शीला दीक्षित जी के जीवन एवं राजनैतिक क्षेत्र के बारे में जानकारी मिलेगी|

Short Biography about Sheila Dikshit in Hindi

शीला दीक्षित जी भारतीय राजनैतिक पार्टी कांग्रेस की एक वरिष्ट और अनुभवी सदस्य थी|

शीला दीक्षित जी केरल राज्य की पूर्व राज्यपाल थी इनसे पूर्व अधिकारी निखिल कुमार जी थे|

और साथ ही शीला दीक्षित जी अभी तक की ऐसी महिला है जो भारत की राजधानी दिल्ली राज्य की लगातार तीन बार मुख्यमंत्री पद पर रही|

केरल राज्यपाल के पद पर इनका कार्यकाल 11 मार्च 2014 से 25 अगस्त 2014 तक रहा|

श्रीमती शीला दीक्षित जी को लगातार तीसरी बार 17 दिसंबर, 2008 को दिल्ली विधान सभा के लिये चुना गया था।

वर्ष 2013 में दिल्ली में हुए विधान सभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी की हार के कारण श्रीमती शीला दीक्षित जी ने अपने पद से इस्तीफा दिया| इन चुनावों में आम आदमी पार्टी को विजय मिली जीके लीडर श्री अरविन्द केजरीवाल जी है|

दिल्ली की प्रथम महिला मुख्य मंत्री सुषमा स्वराज थी और श्रीमती शीला दीक्षित जी दिल्ली की दूसरी महिला मुख्य मंत्री थी|

श्रीमती शीला दीक्षित जी को वर्ष 2017 में उत्तरप्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों में कांगेस पार्टी की मुख्यमंत्री पद लिये इन्हें उम्मीदवार घोषित किया गया था|

श्रीमती शीला दीक्षित जी ने वर्ष 1986 से 1989 तक केन्द्रीय सरकार में मंत्री पद भी ग्रहण किया था।

वर्ष 1998 में श्रीमती शीला दीक्षित जी ने कांग्रेस पद पर रहते हुए दिल्ली में कांग्रेस को विजय दिलाई|

श्रीमती शीला दीक्षित जी के नेतृत्व में वर्ष 2008 के विधान सभा चुनावों में कांग्रेस ने 70 में से 43 सीटें जीती थी|

दिल्ली के कान्वेंट ऑफ जीसस एंड मैरी स्कूल से श्रीमती शीला दीक्षित जी ने अपनी शिक्षा ग्रहण की| बाद में मिरांडा हाउस कालेज से इन्होने स्नातक और कला स्नातकोत्तर की शिक्षा ली|

श्रीमती शीला दीक्षित जी की दो संतानें है और इनका विवाह प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी श्री उमाशंकर दीक्षित के परिवार में हुआ था और इनके पति विनोद दीक्षित थे जोकि भारतीय प्रशासनिक सेवा के सदस्य रहे थे|

श्रीमती शीला दीक्षित जी वर्ष 1970 में, यंग विमन्स असोसियेशन की अध्यक्षा भी रहीं थी|

20 जुलाई 2019 को श्रीमती शीला दीक्षित जी की मृत्यु 81 वर्ष में दिल्ली के एस्कॉर्ट अस्पताल में हुई|

हम आशा करते है की आपको इस पोस्ट में श्रीमती शीला दीक्षित जी के बारे में काफी जानकारी मिली होगी यदि फिर भी हमने कुछ ऐसा जो यहाँ श्रीमती शीला दीक्षित जी के बारे में प्रकाशित नहीं किया तो कृपया हमने कमेंट बॉक्स या ईमेल पर बताएं.

सुषमा स्वराज महत्वपूर्ण तथ्य

बुद्ध की शिक्षा

बजट 2019-20 की प्रमुख घोषणाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *