खेलो इंडिया स्कीम के लिए सरकार ने 734 एथलीटों का चयन किया है

खेल मंत्रालय और युवा मामलों के तहत भारतीय खेल प्राधिकरण (एसएआई) ने खेलो इंडिया योजना के तहत 734 एथलीटों का चयन किया है. जिसके द्वारा एथलीटों को सरकारी मान्यता प्राप्त आवासीय अकादमियों में प्रशिक्षण मिलेगा और साथ ही उन्हें वार्षिक अनुदान भी प्रदान किया जाएगा. उन्हें चोटों के इलाज और अन्य खर्चों से निपटने के लिए 1,20,000 सालाना जेब खर्च दिया जायेगा.

खेल अकादमी

उच्च शक्ति समिति ने पहली बार मजबूत पारिस्थितिक तंत्र बनाने के लिए विभिन्न निजी, राज्य और एसएआई अकादमियों को मान्यता दी है. जिसमे 21 गैर-एसएआई अकादमियां भी है जिस उद्देश्य अकादमियों को विकसित करना है जिससे युवा एथलीट लंबी दूरी की यात्रा किए बिना सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण तक आसानी से पहुंच सकें.

राष्‍ट्रीय खेल प्रतिभा विकास योजना

इस योजना के तहत भारत में खेल संस्कृति को पुनर्जीवित करने के लिए खेल और युवा मामलों के मंत्रालय द्वारा पेश किया गया है. इस मुख्य उद्देश्य देश में सभी खेलों के लिए मजबूत ढांचा बनाना है जिससे भारत को महान खेल राष्ट्र के रूप में स्थापित करने में मदद मिलेगी. साथ ही इस योजना से विभिन्न विषयों में स्कूलों से प्रतिभशाली युवा का चयन करके उन्हें आने वाले समय के लिए खेल चैंपियन के रूप में तैयार करना है. इसके तहत प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को विभिन्न स्तरों पर प्राथमिकता वाले खेल विषयों के बारे में अवगत कराया जायेगा और 8 साल के लिए 5 लाख रूपये की वार्षिक वित्तीय सहायता भी प्रदान की जाएगी.

इन्हें भी देखें:
स्वर्ण मुद्रीकरण योजना
मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना
प्रधानमंत्री वय वंदना योजना