Committees of Delhi Municipal Corporation in Hindi

उपयुक्त विस्तृत कार्यों के सम्पादन के लिए दिल्ली नगर निगम विभिन्न समितियों का गठन करता है| ये दिल्ली नगर निगम की समितियां निम्नलिखित है-

स्थायी समिति – Standing Committee of MCD

स्थायी समिति दिल्ली नगर निगम की अत्यंत महत्वपूर्ण समिति है वास्तव में निगम की सम्पूर्ण कार्यपालिका शक्तियां इस समिति में ही निहित है इसका वित्त पर पूर्ण नियंत्रण होता है यह नए कर लगाने की सिफारिश कर सकती है तहत पुराने करों में परिवर्तन का सुझाव भी दे सकती है.

स्थायी समिति में नगर निगम के सदस्यों में से निर्वाचित 14 सदस्य होते है| प्रतिवर्ष 14 सदस्यों में से आधे अवकाश-ग्रहण कर लेते है और उनके स्थान पर और नए सदस्य चुन लिए जाते है एक बार अवकाश-ग्रहण कर लेते है और इनके स्थान पर और नए सदस्य चुन लिए जाते है एक बार चुने हुए सदस्यों को पुन: भी चुना जा सकता है स्थायी समिति का सदस्य अपने में से एक सभापति तथा उप-सभापति चुन लेते है इन दोनों अधिकारियों का निर्वाचन स्थायी समिति के सदस्य प्रतिवर्ष करते है स्थायी की बैठक में एक बार अवश्य होती है|

परिवहन समिति – Transport Committee of MCD

स्थायी समिति के अतिरिक्त कुछ अन्य नियमित समितियाँ है| इनमें एक परिवहन समिति है इसमें एक परिवहन समिति है| इसमें साथ सदस्य होते है जिनमे चार नगर निगम द्वारा निर्वाचित होते है और तीन को केन्द्रीय नियुक्त करती है ये तीन नियुक्त सदस्य परिवहन के सम्बन्ध में विशेष योग्यता रखने वाले व्यक्ति होते है निर्वाचित सदस्यों में से प्रतिवर्ष आधे अवकाश ग्रहण कर लेते है और उनके स्थान पर नए सदस्यों का चुनाव कर लिया जाता है समिति अपना सभापति और उप-सभापति निर्वाचित करती है| परिवहन समिति दिल्ली में परिवहन के साधनों के विकास तथा जनता के लिए उपर्युक्त आवागमन के साधनों की व्यवस्था के लिए निगम के प्रति उत्तरदायी है|

बिजली पूर्ति समिति – Electric Supply Committee of MCD

दूसरी नियमित समिति बिजली पूर्ति समिति है इसका संगठन भी ठीक उसी प्रकार है जिस प्रकार परिवहन समिति का है किन्तु इस समिति में केन्द्रीय सरकार द्वारा नियुक्त तीन सदस्य बिजली पूर्ति के सम्बन्ध में विशेष ज्ञान व् अनुभव रखते है यह समिति भी सात सदस्यों पर आधारित होती है जिनमे चार निगम के निर्वाचित सदस्य होते है यह समिति भी अपना सभापति तथा उप-सभापति निर्वाचित करती है| बिजली समिति ‘दिल्ली विद्दयुत बोर्ड’ पर नियंत्रण रखती है और उसके उत्तम रूप में कार्य करने के लिए उत्तरदायी है|

जल प्रदाय एवं मॉल व्ययन समिति – Water Supply and Sewage Committee of MCD

नगर निगम की एक अन्य नियमित समिति ‘जल प्रदाय एवं मॉल व्ययन समिति’ है इसका संगठन उसी प्रकार होता है जिस प्रकार परिवहन समिति में से होता है और तीन को केंद्र सरकार मनोनीत करती है ये मनोनीत सदस्य जल व मल के विशेषज्ञ होते है शेष बाते अन्य समितियों के सामान ही है|

जल-मॉल समिति नगर में रहने वालों के लिए शुद्ध व् उत्तम जल पूर्ति का प्रबंध करती है तथा नगर के मल को एकत्रित करके बहार फिकवाने की व्यवस्था करती है जिससे नगर की स्वच्छता बनी रह| इस दृष्टि से यह समिति जल-मल के संस्थान के कार्यों की देख-रेख करती है सार्वजनिक शौचालयों एवं गंदी-नालियों को बनवाना देख-रेख के एवं समय-समय पर उनकी मरम्मत भी समिति द्वारा की जाती है|

शिक्षा एवं खेलकूद समिति – Education and Sports Committee of MCD

नगर निगम द्वारा चलाए जाने वाले विधालयों के देख-रेख यह समिति करती है तथा शिक्षा के सम्बन्ध में विभिन्न समस्याओं पर विचार करती है और शिक्षा के उच्च-स्तर को बनाए रखने का प्रयत्न करती है समिति द्वारा छात्रों के शारिक विकास के लिए खेल्कुल एवं अन्य कार्यक्रमों पर भी ध्यान दिया जाता है| इस समिति का संगठन भी उपर्युक्त तीन समितियों जैसा ही होता है इसमें केंद्र सरकार द्वारा मनोनीत सदस्य शिक्षा के कह्त्र में योग्यता प्राप्त व्यक्ति होते है|

ग्रामीण क्षेत्र समिति – Rural Area Committee of MCD

दिल्ली नगर निगम के ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए एक ग्रामीण क्षेत्र समिति व्यवस्था है यह समिति ग्रामीण क्षेत्रो के विकास के लिए योजनाए बनाती है यही समिति ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए जाने वाले करों के समबन्ध में इग्म को सिफारिश करती है इसके अतिरिक्त यह समिति ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए कितना धन व्यय करना चाहिए इस सम्बन्ध में भी निगम को सिफारिश करती है ग्रामीण क्षेत्र समिति में ग्रामीण क्षेत्रो से निर्वाचित नगर निगम के सभी सदस्य सम्मिलित होते है और वे अपने में से एक सभापति तथा उप-सभापति चुनते है|

अन्य समितियाँ – OF Committee of MCD

उपर्युक्त छ: समितियों के अतिरिक्त भी नगर निगम अधिनियम के अंतर्गत अनेक अन्य समितियों के निर्माण करने की व्यवस्था है| आजकल निम्नलिखित अन्य समितियां भी कार्य कर रही है-

  • निर्माण समिति (Works Committee)
  • चिकित्सा तथा सार्वजनिक स्वास्थ्य समिति (Medical Relief and Public Health Committee)
  • उघान तथा मार्केट समिति (Gardens and Market Committee)
  • सुधार समिति (Improvement Committee)
  • विधि एवं सामान्य प्रयोजन समिति ( Law and General Purposes Committee)

Leave a Comment