राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु:- दादी प्रकाशमणि की स्मृति में डाक टिकट जारी किया

राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने दादी प्रकाशमणि की स्मृति में डाक टिकट जारी किया, जिसमें उन्होंने उनके आध्यात्मिक योगदान को सलामी दी और उनके महत्वपूर्ण कार्यों की महत्वपूर्णता को उजागर किया

राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु:- दादी प्रकाशमणि की स्मृति में डाक टिकट जारी किया

भारत के राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने हाल ही में राष्ट्रपति भवन सांस्कृतिक केंद्र में ब्रह्माकुमारीज़ की पूर्व प्रमुख दादी प्रकाशमणि की स्मृति में एक डाक टिकट जारी किया है. यह डाक टिकट दादी प्रकाशमणि की 16 वीं पुण्य तिथि के अवसर पर संचार मंत्रालय के डाक विभाग की ‘माई स्टैम्प’ पहल के अंतर्गत जारी किया गया है.

G20 क्या है?- भारत 2023 में कर रहा है इसकी अध्यक्षता, होगी दिल्ली में आयोजित, जानें आवश्यक जानकारी


राष्ट्रपति ने इस मौके पर कहा कि दादी प्रकाशमणि ने आध्यात्मिकता के माध्यम से भारतीय मूल्यों और संस्कृति को भारत और विदेशों में फैलाया। उनके नेतृत्व में ब्रह्माकुमारीज़ विश्व में महिलाओं के नेतृत्व वाले सबसे बड़े आध्यात्मिक संगठन बने। उन्होंने एक सच्चे नेता की तरह चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में भी विश्वास और साहस के साथ ब्रह्माकुमारीज़ परिवार के साथ खड़ी रहीं और हमेशा उनका मार्गदर्शन किया।

राष्ट्रपति ने कहा कि विश्व का यह सबसे बड़ा सत्य है कि जीवन अस्थायी है और व्यक्ति को उसके कर्मों के कारण ही याद किया जाता है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति को लोक कल्याण की भावना से नेक काम करना चाहिए। उन्होंने बताया कि दादी जी शारीरिक रूप से हमारे बीच तो नहीं हैं, लेकिन उनके आध्यात्मिक और मिलनसार व्यक्तित्व और मानव कल्याण के उनके संदेश हमेशा हमारे बीच जीवित रहेंगे और आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करते रहेंगे।

BPSC Bihar Teacher Question Paper 2023: सेट A, B, C, D प्रश्न पत्र PDF

जाने क्या कहा राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने चंद्रयान-3 मिशन की सफलता के बारे में

राष्ट्रपति ने हाल ही में चंद्रयान-3 मिशन की सफलता के बारे में कहा कि हम सभी ने भारत के वैज्ञानिकों की अद्भुत सफलता देखी है। उन्होंने कहा कि भारत ने चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने में पहला देश बना लिया है। उन्होंने यह विश्वास दिलाया कि चंद्रयान-3 मिशन के माध्यम से चंद्रमा की सतह से नई जानकारी प्राप्त होगी, जिससे पूरे विश्व को लाभ होगा।

चंद्रयान-3 मिशन के बाद इसरो के अब इन सभी मिशनों पर काम करेगा:- इसरो के मिशनों की सूची

Leave a Comment